ईमेल के माध्यम से सदस्यता लें

अपना ईमेल पता दर्ज करें:

दीवाली का बोनसः ईटीटी अध्यापकों का वेतन बढ़ेगा

चंडीगढ़. कर्मचारियों को दीवाली का तोहफा देने के बाद अब राज्य सरकार ने पंजाब के सभी रेगुलर काम करने वाले ईटीटी अध्यापकों का वेतनमान बढ़ाने संबंधी फैसला ले लिया है। समझा जाता है कि वित्त विभाग द्वारा एक दो दिनों में फाइल को हरी झंडी दे दी जाएगी। चुनाव के नजदीक आते ही अकाली-भाजपा सरकार ने विरोध करने वाले हर वर्ग के लिए खजाने का मुंह खोल दिया है। ईटीटी अध्यापकों का वेतनमान बढ़ने से ही राज्य के खजाने पर 250 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा। इसके अलावा एलोपैथी को छोड़कर अन्य पैथियों के डॉक्टर, जिनमें आयुर्वेद, यूनानी और होम्योपैथी के डॉक्टर शामिल हैं, को भी नॉन प्रेक्टिस अलाउंस देने का फैसला ले लिया गया है। यह फाइल भी एक दो दिनों में क्लियर होने की संभावना है। मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों के अनुसार ये सभी वे मांगें हैं जिनके लिए बजट में कोई प्रावधान नहीं है । बताया जाता है कि वित्त मंत्री डॉ. उपिंदरजीत कौर फरवरी महीने में इसके लिए सप्लीमेंटरी बिल पेश करेंगी। मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल द्वारा यदि इन दिनों में खुले हाथ से बांटी जा रही रेवड़ियों का आकलन किया जाए तो लगभग एक हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ खजाने पर पड़ने जा रहा है। बिना सिफारिश बढ़ाए मिनिस्ट्रियल स्टाफ के वेतनमान : इससे पहले पांचवें वेतन आयोग की सिफारिशें न होने के बावजूद जहां क्लर्को, स्टेनो टाइपिस्टों और जूनियर स्केल स्टेनोग्राफरों का वेतनमान बढ़ाया गया था। यह लाभ उन्हें इसी महीने की एक अक्तूबर से मिलना शुरू होगा।
 और भी गफ्फे-इसके अलावा ग्रुप एक के सभी कर्मचारियों को 500 रुपए, ग्रुप बी के कर्मचारियों को 300 रुपए और ग्रुप सी के कर्मचारियों को 150 रुपए और ग्रुप डी के कर्मचारियों को सौ रुपए का मोबाइल भत्ता भी दिया जाएगा। ये सभी एक अक्तूबर से मिलेगा। मोबाइल भत्ते के अलावा उन्हें दस दिन का एलटीसी भी मिलेगा जिसमें कर्मचारी पूरे सेवाकाल के दौरान अधिक से अधिक साठ दिन का वेतन ले सकेगा। यह भी पहली अक्तूबर से लागू होगा। यदि पति और पत्नी दोनों सरकारी कर्मचारी हैं तो यह सुविधा दोनों को मिलेगी। http://www.bhaskar.com/article/PUN-OTH-ett-teachers-payment-2480305.html